शुक्रवार, 27 नवंबर 2009

द ग्रेट जीएम 'श्री गणेश' के फंडे

द ग्रेट जीएम 'श्री गणेश' के फंडे जिंदगी के हर क्षेत्र में मैनेजमेंट बहुत जरूरी है फि‍र वो चाहे पढ़ाई हो या करि‍यर, घर का काम हो या ऑफि‍स का। ऐसे तो सभी मैनेजमेंट गुरु मैनेजमेंट के अपने-अपने फंडे देते रहते हैं। लेकि‍न इस बार हम आपको बता रहे हैं वि‍घ्नषहर्ता 'श्रीगणेश' के मैनेजमेंट फंडे। श्री गणेश से जुड़ी हर चीज और वि‍चार हमें कोई ना कोई मैनेजमेंड फंडा जरूर बताता है, जरूरत है तो बस उसे पहचानने की। गणेशजी बुद्धि‍ के देवता हैं और उन्हेंम बद्धि‍ से ही समझा जा सकता है। सही इस्तेमाल यदि हम श्री गणेश और प्रबंधन की बात करें तो सबसे पहले हमें उनके वाहन चूहे पर ध्यान देना चाहिए, जो एक प्रबंधक को यह सिखाता है कि कैसे छोटे-से स्रोत का भी सही प्रबंधन कर उसका बेहतर ढंग से इस्तेमाल कर सकते हैं। लगातार आगे गणेशजी सौम्य, शांति और चंचलता के प्रतीक हैं। एक प्रबंधक में केवल शांति ही नहीं, चंचलता का गुण मार्केट में आगे निकलने के लिए आवश्यक है। इसी गुण से वह कंपनी या कॉलेज में एक सफल प्रबंधक साबित हो सकता है। संकट दूर करे विघ्नहर्ता का एक अर्थ प्रबंधक होता है, जो कठिन से कठिन परिस्थिति में तमाम तरह के विघ्नों को जल्द से जल्द हर कर विघ्नहर्ता बन जाए। इसीलिए गणेश प्रथम वंदनीय हैं। बुद्धि व चतुराई गणेशजी की जीवनलीला का वह प्रसंग जिसमें कार्तिकजी और गणेशजी के बीच हुई प्रतियोगिता भी प्रबंधन के गुर सिखाती है। प्रतियोगिता जीतने के लिए समय प्रबंधन और परिस्थिति में तुरंत कार्य करने की क्षमता चाहिए। एक दंत श्री गणेश का एक दाँत बताता है कि आपको अपनी खासियत बचाकर रखना चाहिए और फालतू चीजों का त्याग कर देना चाहिए। इससे आप अपने कामों को ज्यादा बेहतर ढंग से कर सकते हैं और अनचाही परेशानियों से बच सकते हैं। छोटे पैर किसी काम को बेहतर ढंग से अंजाम देने के लिए आपको अपना संतुलन बनाए रखना बेहद जरूरी होता है। श्री गणेश के छोटे पैर न केवल यह संदेश देते हैं कि आपको अपना संतुलन बनाए रखना है बल्कि यह भी बताते हैं कि किस तरह धीरे-धीरे और छोटे-छोटे कदमों से अपने लक्ष्य की ओर बढ़ा जा सकता है। इसी रणनीति के जरिए आप अपने कदमों के निशान छोड़ सकते हैं। अलर्टनेस श्री गणेश का चूहा अलर्टनेस और मूवमेंट्स का प्रतीक है। यह बताता है कि आपको कामयाब होने के लिए हमेशा अलर्ट रहना चाहिए और समय के हिसाब से गतिशील और सक्रिय रहना चाहिए। पचाने की ताकत श्री गणेश का बड़ा पेट भी अपने में बड़े अर्थ समाहित किए हुए है। यह बताता है कि आप में अच्छी -बुरी तमाम बातों को पचाने की ताकत होना चाहिए। अक्सर यह देखा जाता है कि स्टूडेंट्स या युवा किसी की बात सुनकर चाहे-अनचाहे रिएक्ट करते हैं या बिना सोचे-समझे कुछ कर बैठते हैं। उनके लिए बड़े पेट का प्रतीक बताता है कि पहले उस बात को समझो-जानो और फिर किसी काम को अंजाम दो। साथ करो श्री गणेश के हाथ में रोप भी दिखाई देती है। यह इस बात की प्रतीक है कि आपको अपने आसपास या टीम के सदस्यों को साथ लेकर उन्हें कॉमन गोल के प्रति प्रोत्साहित करना चाहिए। इससे टीम भावना पैदा होती है और सामूहिक ढंग से गोल हासिल कर सकते हैं। मोदक और आपने ऊपर बताए तमाम फंडे अपनाकर सफलता और समृद्धि पा ली है तो जाहिर है दुनिया आपके कदमों में होगी। सभी आपसे प्रभावित होंगे और आपकी प्रशंसा करेंगे। मोदक मेहनत, लगन और साधना का प्रतीक है।

8 टिप्‍पणियां:

  1. अच्छी रचना। बधाई। ब्लॉगजगत में स्वागत।

    उत्तर देंहटाएं
  2. Welcome in the world of thought communication.
    To know more our system visit Bhagyodayorganic.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  3. हुज़ूर आपका भी एहतिराम करता चलूं......
    इधर से गुज़रा था, सोचा, सलाम करता चलूं।

    www.samwaadghar.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  4. आप आये बहार आयी .......
    कुछ नया ही दे के जाइयेगा

    उत्तर देंहटाएं
  5. हिंदी ब्लाग लेखन के लिए स्वागत और बधाई
    कृपया अन्य ब्लॉगों को भी पढें और अपनी टिप्पणियां दें

    कृपया वर्ड-वेरिफिकेशन हटा लीजिये
    वर्ड वेरीफिकेशन हटाने के लिए:
    डैशबोर्ड>सेटिंग्स>कमेन्टस>Show word verification for comments?>
    इसमें ’नो’ का विकल्प चुन लें..बस हो गया..कितना सरल है न हटाना
    और उतना ही मुश्किल-इसे भरना!! यकीन मानिये

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत ही सुंदर रचना है। ब्लाग जगत में द्वीपांतर परिवार आपका स्वागत करता है।
    pls visit....
    www.dweepanter.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

My Dream House

My Dream House
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

यह ब्लॉग खोजें